https://www.rakeshmgs.in/search/label/Template
https://www.rakeshmgs.in
Advertisements
RakeshMgs

What is Netiquette in Hindi | नेटिकेट क्या है? हिंदी में जाने

शनिवार, 16 जुलाई 2022

What is netiquette in Hindi

नेट शिष्टाचार (Net etiquette)

  • बिना गलतफ़हमी के इंटरनेट द्वारा अन्य से सम्पर्क करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है क्योंकि, चेहरे की प्रतिक्रिया और बॉडी लैंग्वेज की व्याख्या साइबरस्पेस पर नहीं की जा सकती है।

  • अतः, इन गलतफहमियों से सुरक्षित रहने के प्रयास के लिए एक तकनीक, जिसे इंटरनेट शिष्टाचार कहते हैं, प्रस्तावित किया गया है।

  • इंटरनेट शिष्टाचार एक तकनीक है जो सामाजिक दृष्‍टि से ऑनलाइन या डिजिटल में स्वीकृति योग्य व्यवहार का संचालन करता है।

  • इंटरनेट शिष्टाचार को "नेटकिट (Netiquette)" भी कहा जाता है।

  • अच्छे नेटकिट में अन्य की गोपनीयता शामिल रहता है और ऑनलाइन ऐसा कुछ नहीं करता है जिससे अन्य लोग परेशान हो जाएंगे या निराश हो जाएंगे।

  • ई-मेल, ऑनलाइन चैट, और समाचार समूह ऐसे महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं जहाँ अच्छा नेटकिट अत्यधिक प्रभाव डालता है।

  • उदाहरण के लिए, अनावश्यक ई-मेल के जरिए अन्य उपयोगकर्ताओं को स्पैम करने वाले या बहुत अधिक संदेश भेजने वाले लोग बहुत बुरे नेटकिट होते हैं।

  • इंटरनेट शिष्टाचार को नहीं जानने वाली कंपनियां, कॉर्पोरेट शर्मिंदगी उत्पन्न कर सकती हैं और कर्मचारी को निकाल सकती हैं।

नेट शिष्टाचार के मार्गदर्शन (Guide to Net Etiquette)

  • उपयोगकर्ता के किसी समाचार समूह या चर्चा बोर्ड में शामिल होने से पहले, उन्हें हमेशा यह जांच कर लेना चाहिए की उनके प्रश्न समूह से संबंधित हैं या नहीं। शामिल होने से पहले उपयोगकर्ता द्वारा वार्तालाप देख लेना अच्छा विचार है।

  • चैट, समाचार समूह या संदेश बोर्ड में अश्लील या धमकाने वाले संदेशों का कभी भी उत्तर न दें।

  • यदि वार्तालाप उपयोगकर्ता को असहज बनाता है तो उन्हें हमेशा इसे छोड़ देना चाहिए।

  • फ्लेम वार में कभी न पड़ें। वह 2 या इससे अधिक लोगों के बीच संचालित शोरगुल वाला मुकाबला (टेक्स्ट के जरिए) है।

  • किसी ईमेल को भेजने के लिए बड़े अक्षरों का प्रयोग कभी नहीं करें।

  • कभी भी अन्यों विशेषकर सार्वजनिक फोरम, समाचार समूह, या चैट के बारे में बुरी या गलत चीजें न कहें। ये कई संग्रहों में बचे रहते हैं और उपयोगकर्ता अपमानित लेख के लिए दंडित किए जा सकते हैं।

  • उपयोगकर्ता को कभी भी व्यक्तिगत ईमेल पहले मूल प्रेषक को जांचे बिना किसी और को फॉरवर्ड नहीं करना चाहिए।

  • ठीक ऐसे ही, ईमेल किसी और को फॉरवर्ड करते समय, दोस्तों या परिवार के समूह की गोपनीयता का ख्याल रखें। उन सभी के ईमेल पता को सार्वजनिक रूप से न फैलाएं। ईमेल पता को निजी रखने वाले बी.सी.सी. (BCC) कमांड का उपयोग करना सीखें।

  • इमोटिकॉन्स के अधिक उपयोग से बचें, क्योंकि जब वे अधिक से अधिक उपयोग होते हैं और लोगों को परेशान करते हैं तो वास्तव में वे उनकी कुशलता को खो देते हैं।


Admin

Admin
आपको आर्टिकल कैसा लगा? अपनी राय अवश्य दें
Please don't Add spam links,
if you want backlinks from my blog contact me on rakeshmgs.in@gmail.com