https://www.rakeshmgs.in/search/label/Template
https://www.rakeshmgs.in

Learn in Hindi

RakeshMgs

How to Use Page Layout menu in Ms (Microsoft) Office Word 2007 full Hindi Notes (एम एस वर्ड के पेज लेआउट मेनू का उपयोग कैसे करें हिंदी में जाने)

गुरुवार, अप्रैल 11, 2019

यहाँ आपको पेज लेआउट मेनू के कार्य के बारे में बताया जा रहा है आप इसे लास्ट तक जरूर पढ़े और शेयर भी करें। 

Page Layout menu

पेज लेआउट मेनू पेज से सम्बंधित सेटिंग करने के लिए प्रयोग करते है। जो की निम्नलिखित है-
  1. Themes थीम्स इसके अंतर्गत फोंट स्टाइल और कलर चेंज करने के लिए प्रयोग कर सकते हैं। 
  2. Margin रूलर के अनुसार मार्जिन लगाने के लिए प्रयोग करते हैं इसमें बाय डिफॉल्ट ऊपर नीचे तथा दाएं बाएं एक एक इंच सेट रहता है इसमें आप खुद से कस्टमाइज करके भी मार्जिन लगा सकते हैं। 
  3. Orientation ओरियंटेशन की मदद से पेज को खड़ा (Portrait) तथा पट (Landscape) करने के लिए प्रयोग करते हैं इसमें बाय डिफॉल्ट पोट्रेट मोड सेट रहता है। 


  4. Size इसकी मदद से बनाए गए डॉक्यूमेंट या लीए हुए नए पेज को साइज देने के लिए प्रयोग करते हैं जिसमें आप खुद से पेपर साइज ऐड भी कर सकते हैं और इसमें बाय डिफॉल्ट लेटर साइज सेट रहता है जो कि 8.5 इंच चौड़ाई और 11 इंच लंबाई होती है। 
  5. Column कॉलम का प्रयोग अधिकतर column-wise लिखने के लिए प्रयोग करते हैं इसमें आपको 1, 2, 3, कॉलम तथा लेफ्ट राइट का ऑप्शन मिल जाएगा खुद से कस्टमाइज करने के लिए मोर कॉलम पर जाकर के सेट कर सकते है। 
  6. Page Break इसकी मदद से पैराग्राफ लाइन चेंज करके दूसरे पेज में ले जाने की लिए प्रयोग करते हैं इसको पेज ब्रेक कहा जाता है उसका शॉर्टकट की Ctrl+Enter है। Column ब्रेक की मदद से कॉलम बदलने के लिए प्रयोग करते है। तथा टेक्स्ट रैपिंग की मदद से पैराग्राफ बदलने के लिए प्रयोग करते है जो की एंटर बटन दबाने से होता है। 
  7. Line Numbers लाइन नंबर की मदद से हमारी पेज कितनी लाइन में लिखी हुई टेक्स्ट है उसे देखने के लिए प्रयोग करते हैं। 
  8. Hyphenation का प्रयोग उस समय करते हैं जब हमारी लिखी हुई टेक्स्ट पैराग्राफ रैपिंग होकर दूसरे लाइन में आती है तो कुछ शब्द ऊपर वाले पैराग्राफ में रह जाते हैं और छोटा सा डैस लग कर के नीचे वाले पैराग्राफ में उसका बचा हुआ शेष भाग आ जाता है उसे ही Hyphenation कहा जाता है जो ऑटोमेटिक तथा मैनुअली दोनों है। 
  9. Watermark पेज के बीच में वाटर मार्क लगाने के लिए प्रयोग करते हैं जिसमें पिक्चर तथा टेक्स्ट वाटर मार्क लगा सकते हैं और टेक्स्ट वाले ऑप्शन में फोंट स्टाइल कलर सब कुछ चेंज कर सकते हैं। 
  10. Page Color लिए हुए वर्तमान पेज को किसी रंग में करने के लिए प्रयोग करते हैं तथा मोर कलर्स में जाकर के और भी कलर्स डिफाइन कर सकते हैं इसके साथ ही फील इफेक्ट में ग्रेडियंट टेक्सचर पेटर्न तथा पिक्चर भी लगा सकते हैं। नोट लगाए गए पेज कलर बाय डिफॉल्ट प्रिंट नहीं होती है यदि आप को प्रिंट करना हो तो वर्ड ऑप्शन में जाकर डिस्प्ले ऑप्शन में जाने के बाद प्रिंटिंग ऑप्शन पर प्रिंट बैकग्राउंड कलर एंड इमेज पर चेक लगाना होता है। चेक लगाने के बाद आपको सेव कर देना है। 
  11. Page Border पेज बॉर्डर की मदद से पेज में बॉर्डर लगाने के लिए प्रयोग करते हैं जिसके अंदर आपको बॉक्स शैडो तथा 3D का ऑप्शन मिल जाएगा और इसमें आर्ट की मदद से क्लिपआर्ट का भी बॉर्डर लगा सकते हैं जिसमें आपको ढेर सारी क्लिपआर्ट मिल जाएँगी जैसे की फूल, सेब, बन्दर आदि। 
  12. Indent इसकी मदद से पैराग्राफ को एक टैब की तरह इनक्रीस और डिक्रीज करने के लिए प्रयोग करते हैं  जोकि नार्मल टैब बटन दबाने से इनक्रीस होती है। और यह ऑप्शन आपको होम मेनू में भी मिल जायेगा। 
  13. Spacing पैराग्राफ की स्पेसिंग को घटाने तथा बढ़ाने के लिए प्रयोग करते हैं। और यह ऑप्शन आपको होम मेनू में भी मिल जायेगा। 
  14. Arrange अरेंज ऑप्शन के अंतर्गत किसी भी शेप तथा पिक्चर की पोजीशन सेट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
  15. Text Wrapping टेक्स्ट रैपिंग की मदद से पिक्चर को स्क्वायर, टाइट, बिहाइंड टेक्स्ट, इन फ्रंट आफ टेक्स्ट, टॉप एंड बॉटम, आदि सेट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 



  16. Bring to front/send to back किसी भी शेप को ऊपर या नीचे करने के लिए ब्रिंग टो फ्रंट, तथा सेंड टो बैक का प्रयोग करते हैं। 
  17. Align एलाइन की मदद से लेफ्ट राइट सेंटर तथा टॉप मिडिल एवं बॉटम करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
  18. Group  किसी दो शेप को ग्रुप करने के लिए प्रयोग करते है। जब दो शेप सिलेक्ट हो तो ही ग्रुप कर सकते हैं किसी एक शेप  सिलेक्शन पर ग्रुप ऑप्शन शो नहीं करता है। 
  19. Rotate रोटेट की मदद से अपने पिक्चर को 90 डिग्री लेफ्ट, 90 डिग्री राइट फ्लिप वर्टीकल, फ्लिप हॉरिजॉन्टल तथा मोर ऑप्शन में जाकर खुद से कस्टमाइज कर सकते हैं। 
तो आपको यह पोस्ट कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताये यदि आपको कुछ पूछना हो तो कमेंट करके पूछ सकते है।