https://www.rakeshmgs.in/search/label/Template
https://www.rakeshmgs.in

Learn in Hindi

RakeshMgs

How To Use LibreOffice CALC Format Menu All option in Hindi || LibreOffice Calc Complete Hindi Notes

बुधवार, मई 12, 2021

लिब्रेऑफिस कैल्क का फॉर्मेट मेनू के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में

इस आर्टिकल में आप लिब्रेऑफिस कैल्क का फॉर्मेट मेनू विस्तार से स्टेप बाई स्टेप पढेंगे इस आर्टिकल में हम फॉर्मेट मेनू के सभी आप्शन को बताया है एक बार जरुर पढ़े और इसे शेयर करें।

इस मेनू के अन्दर फॉर्मेट से संबंधित सभी विकल्पों को जैसे बोल्ड, इटैलिक, अंडरलाइन, वगैरह यह सब करना और स्पेसिंग में जैसे कि लाइन स्पेसिंग पैराग्राफ स्पेसिंग लगाना लाइन करना लिस्ट बनाना और इसके साथ ही आप इस मेनू के मदद से कुछ स्टाइल भी पेज में इन्सर्ट कर सकते है इन्ही सब विकल्पों को विस्तार से पढ़े।


Calc Format MenuCalc Format>Text


 
  1. Text इस आप्शन का प्रयोग सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट पर दिए हुए फॉर्मेट को लगाने के लिए प्रयोग करते है। यदि आपने टेक्स्ट सेलेक्ट नहीं किया है तो यह अप्लाई करने के बाद जो टेक्स्ट लिखेंगे उसपे अप्लाई हो जायेगा। इसमें आपको टोटल 19 आप्शन दिए गए है जो निम्नलिखित है-
    1. Bold Ctrl+B सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट को मोटा करने के लिए प्रयोग करते है।
    2. Italic Ctrl+I सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट को तिरछा करने के लिए प्रयोग करते है।
    3. Underline Ctrl+U सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट के निचे एक लाइन लगाने के लिए प्रयोग करते है।।
    4. Double Underline Ctrl+D सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट के निचे दो लाइन लगाने के लिए प्रयोग करते है।
    5. Strikethrough टेक्स्ट को बिच में से काटने के लिए प्रयोग करते है।
    6. Overline सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट के ऊपर एक लाइन लगाने के लिए प्रयोग करते है।।
    7. Superscript Ctrl+Shift+P किसी भी टेक्स्ट के थोडा ऊपर टेक्स्ट लिखने के लिए प्रयोग करते है। जैसे मैथ में पॉवर लगाने के लिए या 10th , th को ऊपर लिखने के लिए प्रयोग करते है। ऐसा हम कोई भी टेक्स्ट सेलेक्ट करके कर सकते है।
    8. Subscript Ctrl+Shift+B किसी भी टेक्स्ट के थोडा निचे टेक्स्ट लिखने के लिए प्रयोग करते है। जैसे साइंस का फार्मूला H2O, 2 को निचे लिखने के लिए प्रयोग करते है। ऐसा हम कोई भी टेक्स्ट सेलेक्ट करके कर सकते है।
    9. Shadow किसी भी सिलेक्टेड टेक्स्ट में परछाई लगाने के लिए प्रयोग करते है।
    10. Outline सिलेक्टेड टेक्स्ट की सिर्फ आउटलाइन लगाने के लिए प्रयोग करते है।
    11. Increase Size Ctrl+] सिलेक्टेड टेक्स्ट की फॉण्ट साइज़ बढ़ाने के लिए प्रयोग करते है।
    12. Decrease Size Ctrl+[ सिलेक्टेड टेक्स्ट की फॉण्ट साइज़ घटाने के लिए प्रयोग करते है।
    13. UPPERCASE सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट को पूरा कैपिटल लैटर में करने के लिए प्रयोग करते है।
    14. lowercase सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट को पूरा स्माल लैटर में करने के लिए प्रयोग करते है।
    15. Cycle Case Shift+F3 इसका प्रयोग हम केस स्टाइल बदलने के लिए करते है जिसमे हर बार यह अलग अलग केस को लगाएगा जैसे पहले क्लिक करने पर Sentence केस काम करेगा लेकिन फिर दोबारा क्लिक करने पर Capital Every Word काम करेगा इसी तरह बाकी के केस बारी-बारी से आते रहते है।
    16. Sentence case सेंटेंस केस में टेक्स्ट लिखने के लिए प्रयोग करते है। बाय डिफ़ॉल्ट सेंटेंस केस ही सेलेक्ट होता है।
    17. Capital Every Word सेलेक्ट किये गए सभी वर्ड का पहला अक्षर कैपिटल कर देता है।
    18. tOGGLE cASE सेलेक्ट किये गए सभी वर्ड का पहला अक्षर छोटा कर डेटा है बाकी सब कैपिटल
    19. Small Capitals इसके मदद से भी हम सेलेक्ट की हुए टेक्स्ट को कैपिटल कर सकते है लेकिन फर्क सिर्फ यह रहेगा कि इसमें किसी भी वर्ड का पहला अक्षर साइज़ में बड़ा रहेगा लेकिन रहेगा कैपिटल में ही जैसे- RakeshMgs
  2. Spacing इस आप्शन के मदद से हम पैराग्राफ की स्पेसिंग को सेट कर सकते है और इसी विकल्प में आपको इंडेंट भी सेट करने को मिल जायेगा जिसके मदद से हम किसी पैराग्राफ के लाइन को दाएं से बाएँ के तरफ कर सकते है जो की आप नार्मल टैब बटन दबाकर भी कर सकते है।
  3. Align इस ऑप्शन के मदद से हम अपने लिखे हुए पैराग्राफ की अलाइनमेंट सेट कर सकते हैं जैसे लेफ्ट सेंटर राइट जस्टिफाई आदि। इसमें आपको टॉप सेण्टर बॉटम भी मिलेगा जो टेबल के अन्दर काम करता है जिसे वर्टीकल एलाइनमेंट बोला जाता है।
  4. Number Format इस विकल्प के मदद से कैल्क के सेल को हम बता सकते है कि यह किस प्रकार का नंबर इनपुट ले सके या सेल में कैसा वैल्यू हो लेकिन ध्यान रहे यह सिर्फ नंबर से सम्बंधित ही है किसी स्ट्रिंग पर यह काम नहीं करता है। इसके अन्दर आपको निम्नलिखित आप्शन मिलेंगे-

    Number Format

  5. Clone Formatting किसी भी सेल में लगाए गए फॉर्मेटिंग की कॉपी बनाने के लिए क्लोन फॉर्मेटिंग का प्रयोग किया जाता है। ध्यान रहे कि इससे हमारा टेक्स्ट कॉपी नहीं होगा सिर्फ और सिर्फ उसमें लगे फॉर्मेटिंग जैसे बोल्ड इटैलिक कलर यही सब कॉपी होंगे लेकिन आपका टेक्स्ट कॉपी नहीं होगा। यह आप्शन माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में फॉर्मेट पेंटर के नाम से जाना जाता है।
  6. Clear Direct Formatting Ctrl+M किसी भी वर्ड पैराग्राफ पर लगाए गए फॉर्मेटिंग को एक ही क्लिक में मिटाने के लिए प्रयोग किया जाता है यहां मिटाने का मतलब फॉर्मेटिंग से है टेक्स्ट से नहीं और फॉर्मेटिंग में जैसे बोल्ड हो गया इटैलिक हो गया कलर हो गया यह सब सिर्फ रिमूव हो जाएंगे और यह नॉर्मल टेक्स्ट की तरह हो जाएगा।
  7. Cells Ctrl+1 इस आप्शन का प्रयोग हम अपने सेल की सेटिंग करने के लिए करते है जैसे ही क्लिक करेंगे एक डायलॉग बॉक्स ओपन होगा जो बिलकुल निचे दिए गए इमेज की तरह होगा हो सकता है आपमें दूसरा कोई टैब एक्टिव हो, इसमें अलग अलग टैब दिया गया है जैसे नंबर, फॉण्ट, फॉण्ट इफेक्ट आदि सभी में हम अपने सेल में कुछ भी स्टाइल लगा सकते है तथा सेल किस फॉर्मेट में हो वो भी सेट कर सकते है-

    Format Cells

  8. Row इस आप्शन के अन्दर 4 आप्शन दिए गए है जिनका कार्य निम्नलिखित है-
    1. Height इस आप्शन के मदद से हम अपने सेल की हाइट (ऊंचाई) अपने जरुरत के हिसाब से कस्टम साइज़ देकर बढ़ा घटा सकते है।
    2. Optimal Height इस आप्शन के मदद से हम सभी सेलेक्ट किये हुए सेल की हाइट एक सामान करने के लिए प्रयोग करते है।
    3. Hide इस आप्शन के माध्यम से हम अपने सेलेक्ट किये हुए रो को हाईड यानी छिपा सकते है।
    4. Show हाईड किये गए Row को इस आप्शन के माध्यम से शो करा सकते है।
  9. Column इस आप्शन के अन्दर 4 आप्शन दिए गए है जिनका कार्य निम्नलिखित है-
    1. Width इस आप्शन के माध्यम से हम अपने सेल की Width (चौड़ाई) को अपने जररूत के हिसाब से घटा बढ़ा सकते है
    2. Optimal Width सेलेक्ट किये गए सभी सेल की साइज़ एक सामान करने के लिए प्रयोग करते है।
    3. Hide इस आप्शन के माध्यम से हम अपने सेलेक्ट किये हुए कॉलम को हाईड यानी छिपा सकते है।
    4. Show हाईड किये गए Column को इस आप्शन के माध्यम से शो करा सकते है।
  10. Merge Cells इस आप्शन के अन्दर 3 आप्शन दिए गए है जिनका कार्य निम्नलिखित है-
    1. Merge and Center Cells इस आप्शन के माध्यम से हम दो या दो से अधिक सेल को आपस में जोड़कर एक सेल बना सकते है, इस आप्शन पर क्लिक करने पर हमारा सेल मर्ज हो जाता है तथा इसका एलाइनमेंट सेण्टर हो जाता है।
    2. Merge Cells इस आप्शन के माध्यम से भी हम दो या दो से अधिक सेल को आपस में जोड़कर एक सेल बना सकते है, लेकिन इस आप्शन पर क्लिक करने पर हमारा सेल मर्ज तो हो जाता है परन्तु सेण्टर अलाइन में शिफ्ट नहीं होता है।
    3. Split Cells इस आप्शन के मदद से मर्ज किये गए सेल को अलग यानि तोड़ने के लिए प्रयोग करते है।
  11. Paragraph इस विकल्प का प्रयोग पैराग्राफ से संबंधित सेटिंग करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसमें हम लेफ्ट राइट सेंटर और पैराग्राफ फील कैरेक्टर भी सेट कर सकते हैं। इसके अलावा हमें ढेर सारे मेनू मिल जायेंगे जिसके मदद से पैराग्राफ में और सेटिंग कर सकते है।
  12. Bullets and numbering इस ऑप्शन का प्रयोग बुलेट और नंबरिंग का स्टाइल सेट करने के लिए प्रयोग किया जाता है। बुलेट यानि Unordered List नंबरिंग यानि Ordered List.
  13. Page इस ऑप्शन के माध्यम से हम अपने पेज की सेटिंग कर सकते हैं और साथ ही नेक्स्ट स्टाइल क्या चाहिए वह भी सेट कर सकते हैं और ऊपर मैं आपको ढेर सारे टैब मिल जाएंगे जिसमे जाकर और भी कस्टमाइजेशन कर सकते हैं।
  14. Title Page इस विकल्प का काम है अपने पहले पेज को टाइटल पेज बनाना देखा जाए तो यह सिर्फ और सिर्फ कवर पेज की तरह काम करता है।
  15. Comments इस ऑप्शन का काम कमैंट्स की सेटिंग और फॉर्मेटिंग करने के लिए किया जाता है लेकिन फिलहाल में यह ऑप्शन कृपया ऑफिस में ओपन नहीं होता है।
  16. Columns अपने पेज पर लिखे हुए कंटेंट को कई column में बांटने के लिए प्रयोग किया जाता है।
  17. Watermark अपने पेज में वाटर मार्क इन्सर्ट करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इसके साथ ही अपने इच्छानुसार फॉण्ट और कलर भी सेट कर सकते है। वॉटरमार्क पेज के बैकग्राउंड में लगे इमेज या टेक्स्ट को कहते है जो हल्का दिखाई देता है।
  18. Section इन्सर्ट किये गए सेक्शन में जाने के लिए प्रयोग किया जाता है। जिसमे हम सेक्शन में बदलाव कर सकते है।
  19. Image इन्सर्ट किए हुए इमेज की फॉर्मेटिंग करने के लिए प्रयोग किया जाता है।
  20. Text box and Shape इन्सर्ट किये हुए किसी टेक्स्ट बॉक्स या शेप की फॉर्मेटिंग करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसमे आपको लाइन कलर फिल कलर जैसे आप्शन मिल जायेंगे।
  21. Frame and Object इन्सर्ट किये हुए फ्रेम से हमस में लिंक अनलिंक करने के लिए प्रयोग किया जाता है।
  22. Name इन्सर्ट किये हुए किसी इमेज या ऑब्जेक्ट का नाम लिखकर सेट करने के लिए प्रयोग करते है।।
  23. Description इन्सर्ट किये हुए किसी इमेज या ऑब्जेक्ट का डिस्क्रिप्शन लिखने के लिए प्रयोग करते है।।
  24. Wrap यह आप्शन by default चालू ही रहता है ताकि हमारा टेक्स्ट अपने आप पहली लाइन भरने के बाद निचे आ जाये।
  25. Arrange इस आप्शन का कार्य यह है कि किसी शेप इमेज या ऑब्जेक्ट को सबसे ऊपर सबसे निचे आदि करने के लिए प्रयोग किया जाता है।
  26. Rotate or Flip इस आप्शन से किसी भी इमेज शेप को रोटेट और फ्लिप किया जाता है।
  27. Group ढेर सारे छोटे छोटे ऑब्जेक्ट या कई इमेज को ग्रुप करने के लिए प्रयोग करते है। यदि ग्रुप नहीं करते है तो मूव करने या साइज़ घटाने बढाने में थोडा थोडा गड़बड़ी हो जाता है।