https://www.rakeshmgs.in/search/label/Template
https://www.rakeshmgs.in

Learn in Hindi

RakeshMgs

How To Use LibreOffice CALC Tools Menu All option in Hindi || LibreOffice Calc Complete Hindi Notes

गुरुवार, नवंबर 18, 2021

  1.  Spelling F7 इस आप्शन की मदद से हम अपने डॉक्यूमेंट में लिखे गए पैराग्राफ या किसी भी टेक्स्ट की त्रुटियाँ (Mistakes) को सुधारने के लिए प्रयोग करते है। जैसे ग्रामर मिस्टेक, स्पेल्लिंग मिस्टेक आदि
  2. Automatic Spell Check Shift+F यह आप्शन by default सेट रहता है इसके सेट रहने हमें पता चलता है की हमने कहाँ गलती की है जिसे यह लाल अंडर लाइन से इंडीकेट करता है, साथ इसका एक और फायदा है जब हम टाइप करते समय एक या दो स्पेल्लिंग आगे पीछे लिखा जाता है तब यह अपने आप सुधार कर देता है
  3. Thesaurus Ctrl+F7  इसकी मदद से हम अपने लिखे हुए पेज पर किसी वर्ड को Antonyms और Synonyms टेक्स्ट के रूप में बदलने या सिर्फ देखने के लिए प्रयोग करते है।
  4. Language ट्रांसलेट भाषा सेलेक्ट करने के लिए प्रयोग करते है। साथ ही यह उसी भाषा में स्पेल्लिंग चेक करने के लिए 
  5. Auto Correct Options इसका प्रयोग डॉक्यूमेंट में गलत टेक्स्ट को सुधार करने के लिए प्रयोग करते है। इसमें आप सेट कर सकते है कि कब सुधार हो जैसे While Typing, Apply, Apply and Edit Change यही सब बदलने के लिए प्रयोग करते है। ऑटो करेक्ट में हम अपना खुद का टेक्स्ट भी ऐड कर सकते है जिससे की मुझे RakeshMgs लिखना है और मेरा शॉर्टकट rm है बस rm लिखकर स्पेस देंगे तो पूरा RakeshMgs लिखा आ जायेगा।
  6. AutoInput यह आप्शन फंक्शन को ऑटो इनपुट करता है, यानि कि जब भी हम अपने कैल्क में कोई फंक्शन लिखते है तो हमें आगे का आप्शन बताता है जैसे यदि हम =sum लिखते है तो आगे क्या करना है तथा इस फंक्शन का काम क्या है लिखा रहता है, इसी आप्शन को बंद या चालू करने के लिए प्रयोग करते है डिफ़ॉल्ट रूप से चालू रहता है।
  7. Redact इसका प्रयोग लिब्रे ऑफिस कैल्क में बनाये गए फाइल को लिब्रे ऑफिस ड्रा में इमेज के रूप में ले जाने के लिए प्रयोग करते है।
  8. Goal Seek गोल सीक ऐसा आप्शन है जिसके मदद से हम अननोन वैल्यू का पता लगा सकते है, जैसे कि यदि आप हाई स्कूल का एग्जाम दे रहे है, और आपका 5 पेपर हो चूका है 1 बाकी है, और आपने अपने से काउंट कर लिया कि इस विषय में इतना इस विषय में इतना मिल जायेगा, और आपका टारगेट है 80% लेकिन आपका 65% ही आ रहा है तो जो बचा हुआ एग्जाम है उसमे कितना नंबर लाए कि 80% कम्पलीट हो जाये, सिर्फ इसी तरह का वैल्यू को पता लगाने के लिए इस आप्शन का प्रयोग करते है। 
  9. Solver सॉल्वर भी गोल सीक के साथ मिलकर काम करता है लेकिन इसके लिए आपके कंप्यूटर में Java Runtime Environment (JRE) इस्टॉल होना अनिवार्य है।
  10. Detective इस आप्शन के अन्दर आपको बहुत सारे आप्शन मिल जायेंगे जिसके मदद से हम यह पता लगा सकते है कि हमारा कौन सा सेल किस सेल पर डिपेंड है, इन्ही सब को लगाने और हटाने के लिए प्रयोग करते है, यदि आप इसका प्रयोग करना चाहते है तो ऐसे सेल को सेलेक्ट करें जिसमे या तो कुछ लिखा हो या कोई फंक्शन फार्मूला यूज़ किया गया हो सेलेक्ट करके इस आप्शन पर आयेंगे तो नीले रंग (Blue Color) के तीर (Aero) से इंडीकेट करके बताएगा कि कौन सा सेल किसपर प्रेसिडेंट्स या डिपेंड है।
  11. Scenarios यह ऐसा आप्शन है जिसके मदद से हम अलग अलग सेल डाटा को सेलेक्ट करके लिस्ट बना लेते है और जरुरत पड़ने पर व्हाट-इफ कंडीशन का भी यूज़ कर सकते है।
  12. Forms इस आप्शन के मदद से हम फॉर्म बना सकते है।
  13. Share Spreadsheet इस आप्शन से हम अपने कैल्क फाइल को किसी को शेयर करने के लिए प्रयोग करते है।
  14. Protect Sheet इस आप्शन के मदद से हम अपने कैल्क शीट को पासवर्ड प्रोटेक्ट कर सकते है तथा इसमें हम यह भी सेट कर सकते है कि अन्य यूजर क्या क्या बदलाव कर सके, ध्यान रखे ये आपकी पूरी फाइल को प्रोटेक्ट नहीं करता है सिर्फ शीट की सेलों का करता है।
  15. Protect Spreadsheet Structure अन्य यूजर से अपने कैल्क फाइल को बचाने के लिए इस आप्शन का प्रयोग करते है।
  16. Macros  इस आप्शन के मदद से हम अपने कैल्क में मैक्रो को रिकॉर्ड कर सकते है, इसका काम यह है कि हम जो भी काम करेंगे जैसे करेंगे उन सभी स्टेप को रिकॉर्ड कर लेगा और जब भी हम अपने रिकॉर्ड किये गए मैक्रो को रन करेंगे सिर्फ 2 सेकंड में सभी काम हो जायेंगे जो कि भले ही आपको करने में 30 मिनट ही क्यों न लगा हो, इसके लिए आपके कंप्यूटर में Java Runtime Environment (JRE) इस्टॉल होना अनिवार्य है। यह Visual Basic, Python etc. में Record होता है।
  17. Extension Manager Ctrl + Alt + E जैसा की आप जानते होंगे कि अब एक ही सॉफ्टवेयर में अलग अलग सॉफ्टवेयर का यूज़ किया जा सकता है, तो यह आप्शन भी इसी से सम्बंधित है जिसके मदद से हम लिब्रेऑफिस में और फीचर ऐड और रिमूव कर सकते है। इसे लाइब्रेरी के नाम से भी जाना जाता है।
  18. Customize Menu, Toolbar इत्यादि को Customize करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।
  19. Options Alt+F12  LibreOffice के User Data, Version इत्यादि को Set व Reset करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।