https://www.rakeshmgs.in/search/label/Template
https://www.rakeshmgs.in

Learn in Hindi

RakeshMgs

Adobe Photoshop 7.0 Full Hindi Menu Notes एडोब फोटोशॉप पूर्ण हिंदी मेनू नोट्स

सोमवार, सितंबर 24, 2018

Read Adobe Photoshop 7.0 Complete Notes in Hindi

Adobe Photoshop Complete Menu Notes in Hindi Language 
हेलो दोस्तों आज मैं आपको लोगों को Photoshop के मेनू के बारे में बताऊंगा इससे पहले मैंने आप लोगों को Photoshop के सभी टूल्स के बारे में बताए थे अगर आपने पहला पाठ नहीं पढ़ा हो तो यहां क्लिक Photoshop Hindi Notes  करके पढ़ सकते हैं। 


    File Menu Complete Notes | Description of File Menu





    Click for HD Preview
    1. New Ctrl+N इसके माध्यम से नया पेज लाया जाता हैं। 
    2. Open Ctrl+O बनाये हुए फाइल को ओपन करने के लिए प्रयोग करते हैं।
    3. Brows Shift+Ctrl+O ब्राउज के माध्यम से Jpg, Png , Bmp इमेज को इन्सर्ट करते हैं। 
    4. Open As Alt+Ctrl+O इसके माध्यम से भी इमेज ला सकते है लेकिन इन दोनों में अंतर यह है की इसमें सभी फॉर्मेट को ओपन कर सकते हैं। 
    5. Open Recent ओपन रीसेंट का प्रयोग हाल ही में बनाये हुए फाइल को ओपन करने के लिए करते हैं। 
    6. Close Ctrl+W खुले हुए इमेज या psd फाइल को बंद करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    7. Save Ctrl+S वर्तमान में बने हुए फाइल को सुरक्षित करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    8. Save As Shift+Ctrl+S इसके माध्यम से वर्तमान में नयी फाइल को पहली बार सेव करने के लिए प्रयोग कर सकते है, और पहले से सेव की हुयी फाइल को किसी अन्य फॉर्मेट और अन्य नाम से सेव कर सकते हैं। 
    9. Save For Web Alt+Shift+Ctrl+O बनाये हुए फाइल को html के रूप में सेव करने के लिए प्रयोग करते है। 
    10.  Revert पहले से बानी हुई फाइल को ओपन करने के बाद उसमे कुछ गड़बड़ी हो जाने पर उसे पुनः अपने पुराने अवस्था में लाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    11. Place इसके माध्यम से AI, EPS, PDF, PDP फाइल को   लाने के लिए प्रयोग करते है। 
    12. Import इसके माध्यम से भी किसी भी pdf इमेज, एनोटेशन, और किसी भी स्कैनर से ला सकते हैं। 
    13. Export इसके माध्यम से illustrator और zoom व्यू में एक्सपोर्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    14. Work-group इस आप्शन का प्रयोग बड़ी जगहों या स्टूडियो लैब में होता है जिसमे एक नेटवर्क से कंप्यूटर आपस में कनेक्ट रहता है तथा इसमें एक ही जगह पर फाइल सेव होती है इसी को शेयर करने और सेट करने के लिए प्रयोग करते हैं। (यह एक तरह से एक ही इमेज पर अलग अलग कंप्यूटर पर बैठे यूजर काम कर सकते है वो भी एक ही समय में, और जब भी सेव होगा तो सभी में काम करेगा) 
    15. Automate ऑटो मेट का प्रयोग एक बार में सभी इमेज को पेज में सेट करने के लिए प्रयोग कर सकते है इसमें आपको एक फोल्डर सेलेक्ट करना होगा एक क्लिक में आपका इमेज एक पेज में सभी इमेज आ जायेगी अगर आपका इमेज अधिक रहेगा तो पेज बढ़ सकता है। इसमें एक बात यह है की आपका इमेज साइज एक ही रहता है। तथा इसके अलावा भी आप कई काम कर सकते है जैसे इमेज को पीडीऍफ़ बनाना या कोई भी एक्शन चलाना आदि। 
    16. File Info वर्तमान में लिए हुए फाइल का इनफार्मेशन देखने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    17. Page Setup Shift+Ctrl+P इसका प्रयोग प्रिंट करने से पूर्व आप सेट कर सकते है या बाद में भी कर सकते इसका काम यह है की आप जो भी इमेज बनाये है उसको की पेज पर प्रिंट करना उसी से संबधित सेटअप करने के लिए प्रयोग करते है। 
    18. Print with Preview Ctrl+P प्रिंट से पूर्व देखना की बना हुआ कोई भी इमेज प्रिंट होने पर कैसा दिखेगा। 
    19. Print Alt+Ctrl+P प्रिंट करने के लिए प्रयोग करते है। 
    20. Print one Copy Alt+Shift+Ctrl+P प्रिंट 1 कॉपी से एक कॉपी ही प्रिंट होगा। 
    21. Jump to इसके माध्यम से Image ready पर जाने के लिए प्रयोग करते है। 
    22. Exit Ctrl+Q फोटोशॉप को बंद करने के लिए प्रयोग करते हैं। 

    यदि आप नोट्स डाउनलोड करना चाहते है तो निचे बटन पर क्लिक करें

    बिना वाटरमार्क सिर्फ 50 रु० में ख़रीदे ऑफर सिमित समय के लिए है



    Edit Menu Complete Notes | Description of Edit Menu




    Click for HD Preview
    1. Undo Ctrl+Z जब कभी हम कोई इमेज तैयार करते है उस समय अगर कोई गलती हो जाये तो उसे एक स्टेप पीछे करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    2. Step Forward (Undo) Shift+Ctrl+Zकरते समय अगर एक स्टेप जयादा पीछे चला जाए तो एक स्टेप फोरवोर्ड करने के लिए प्रयोग करते है।
    3. Step Backward Alt+Ctrl+Z अगर फॉरवर्ड करते समाया ज्यादा हो जाये तो एक स्टेप पीछे करने के लिए प्रायोप्ग करते हैं। 
    4. Fade Shift+Ctrl+F का प्रयोग बैकग्राऊंड में पेन्सील ब्रस से ड्रा किये हुए लाइन्स को मिक्स करना। 
    5. Cut Ctrl+X इसका प्रयोग आप किसी सेलेक्ट किये हुए फोटो को कट करके क्लिपबोर्ड में रखने के लिए प्रयोग करते है। 
    6. Copy Ctrl+C सेलेक्ट किये हुए फोटो को या किसी भी टूल से सेलेक्ट किये हुए किसी भी हिस्से को कॉपी करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    7. Copy Merged Shift+Ctrl+C इसका प्रयोग हम कई लेयर में लिया हुआ फोटो को एक ही बार में कॉपी करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    8. Paste Ctrl+V कट या कॉपी किये हुए कोई भी ऑब्जेक्ट, फोटो  या टेक्स्ट को पेस्ट करने के लिए प्रयोग करते है। 

    9. Paste Into Shift+Ctrl+V  इसका प्रयोग हम कॉपी किये हुए इमेज को किसी सिलेक्शन के अंदर पेस्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
    10. Clear ये भी कट की तरह ही काम करता है लेकिन इसमें आप कॉपी नहीं कर सकते हैं। कट में आपका सेलेक्ट किया हुआ हिस्सा आपके क्लिपबोर्ड में चला जाता है लेकिन क्लियर में ये डिलीट हो जाता हैं। 
    11. Spelling Check इस ऑप्शन को आप भी जानते होंगे अगर नहीं तो पढ़ लीजिये इसका प्रयोग होता है स्पेलिंग चेक करने के लिए जैसे मान लीजिए आप Adobe (Photoshop) Photoshap  लिख रहे है इसमें आप फोटोशॉप में गलती कर दिए o की जगह A कर दिए तो उसे चेक कर सकते है। 
    12. Find and Replace text इसका प्रयोग हम किसी टेक्स्ट को खोजने के लिए प्रयोग करते है तथा इसी में रेप्लस का भी ऑप्शन रहता जिससे आप किसी लिखे हुए टेक्स्ट को बदल सकते है जैसे हम Rakeshmgs लिखते है हमको चाहिए की यह Rakesh Mgs इस तरह से लिखा रहे तो इसका प्रयोग कर सकते है। 
    13. Fill इसका प्रयोग सेलेक्ट किये हुए पेज या किसी टूल से सेलेक्ट किये हुए हिस्से में रंग, पैटर्न हिस्ट्री ब्लैक 50% ग्रे वाइट भरने के लिए प्रयोग करते है। 
    14. Stroke सेलेक्ट किये हुए हिस्से को आउटलाइन रंग भरने के लिए प्रयोग करते है। 
    15. Free Transform Ctrl+T ट्रांसफॉर्म इसका प्रयोग फोटो को घुमाने और साइज एडजस्ट करने के लिए प्रयोग करते है. इसका प्रयोग अपने अनुसार जैसा चाहिए वैसे हम कर सकते है अगर इसको लेने के लिए आप मेनू में नही जाना चाहते है तो आप इमेज के नज पर राइट क्लिक कर के भी ला सकते है। 
    16. Define Brush सेलेक्ट लिए हुए हिस्से को ब्रश के रूप में रखने के लिए प्रयोग करते है, इसके मदद से हम अपने जरुरत के हिसाब से ब्रश बना सकते है।
    17. Define Pattern इसका प्रयोग पैटर्न तैयार करने के लिए किया जाता है जैसे ब्रश वाला ऑप्शन है उसी तरह से ये भी है, इसमें हम सिलेक्शन बनाकर भी कर सकते है और बिना सिलेक्शन के करने पर पूरा इमेज का पैटर्न बन जायेगा, सिलेक्शन करने या बिना सिलेक्शन के बाद डिफाइन पैटर्न पर क्लिक करते है, जैसे ही क्लिक करेंगे हमसे एक पैटर्न का नाम सेट करने के लिए आप्शन आ जायेगा।
    18. Define Custom Shape आप इसका प्रयोग शेप तैयार करने के बाद उसे अपने फोटोशॉप में हमेशा के लिए सेव कर सकते है। इसका प्रयोग करने के लिए हमें पेन टूल या शेप टूल का प्रयोग करके कोई भी शेप बनाना पड़ेगा लेकिन ध्यान रहे ड्रा करते समय प्रॉपर्टीबार में shape layers आप्शन पर सेलेक्ट होना चाहिए।
    19. Purge इस आप्शन के मदद से हम Undo Clipboard History जैसे आप्शन को क्लियर करने के लिए करते है यदि एकबार क्लियर कर देते है तो फिर दोबारा यूज़ नहीं किया जा सकता है, जैसे मान लीजिये आपके क्लिपबोर्ड में कुछ इमेज का पार्ट कॉपी है, और आप purge आप्शन में से क्लिपबोर्ड पर क्लिक कर देते है तो वह दोबारा पेस्ट नहीं हो पायेगा डिलीट हो जायेगा और यदि इसी तरह हिस्ट्री पर क्लिक कर देते है तो हिस्ट्री भी डिलीट हो जायेगा।
    20. Color Setting Shift+Ctrl+K इसका प्रयोग हम फोटोशोप में अपने अनुसार कलर को रखने के लिए प्रयोग करते है by डिफ़ॉल्ट RGB सेलेक्ट रहता है आप अपने से लैब कलर CMYK सेलेक्ट कर सकते है। 
    21. Preset Manager  इसका प्रयोग आप अपने ब्रश को सेट करने के लिए कर सकते है। 
    22. Preference इसका प्रयोग अपने हिसाब से आप फोटोशॉप में कस्टमाइज़ करके सेट कर सकते है। 



    Image Menu Complete Notes | Description of Image Menu 

    Click for HD Preview
    1. Mode इस आप्शन के मदद से हम अपने जरुरत के हिसाब से कलर मोड सेलेक्ट करते है, यदि हमें ब्लैक एंड वाइट इमेज बनाना है तो इसमें से हम ग्रेस्केल आप्शन सेलेक्ट करेंगे, ऐसे ही और भी आप्शन आपको मिलेंगे जैसे- Indexed Color, RGB, CMYK, Lab Color, आदि। इसके अलावा कलर बिट सेलेक्ट करने के लिए भी आप्शन मिल जाता है।
      • Indexed Color: यदि आप इन्टरनेट से कोई इमेज डाउनलोड करके लाते है, और फिर फोटोशॉप में कुछ काम करना चाहते है तो नहीं हो पता है, not allowed वाला माउस का कर्सर बनकर दीखता है, जिसमे हम कुछ नहीं कर पाते है, तो इसके लिए आप मोड आप्शन में जाकर RGB या CMYK कलर मोड सेलेक्ट करके काम कर सकते है। 
      • Indexed कलर मोड में क्यों इमेज को रखे? इंडेक्स्ड कलर मोड का सबसे ज्यादा इस्तेमाल वेबसाइट में या gif इमेज बनाने में किया जाता है, इसका फायदा यह है कि इमेज का साइज़ घट जाता है लेकिन क्वालिटी नहीं घटता है। यदि आप कोई इमेज इन्टरनेट पर पब्लिश कर रहे है png में तो rgb मोड पर सेव करने पर लगभग 500kb तक साइज़ बनेगा यदि आप मोड को इंडेक्स्ड कलर करके सेव करते है तो लगभग 250kb का साइज़ बनेगा मतलब 50% इमेज का साइज़ Reduce हो जाता है।
      •  
    2. Adjustment इसके अंदर आपको 18 ऑप्शन मिलेगा जो निम्नलिखित है 
      1. Levels इमेज का लेवल सेट करने के लिए इस आप्शन का प्रयोग करते है, जिसमे हम अपने इमेज के हिसाब से लाइट या डार्क घटा बढ़ा सकते है तथा कलर चैनल को सेलेक्ट करके स्पेसिफिक कलर पर इफ़ेक्ट दे सकते है। 
      2. Auto Levels यह ऑप्शन अपने आप लेवल सेट कर लेता है। 
      3. Auto Contrast यह ऑप्शन भी ऑटो लेवल की तरह काम करता है, लेकिन इसके मदद से हम अपने इमेज की लाइट यानि ब्राइटनेस को मेन्टेन करते है। 
      4. Auto Color यह अपने आप रंग सेट करता है ( रंग को और डार्क या लाइट कर देता है यह इमेज के ऊपर डिपेंड करता है)
      5. Curve इसके मदद से भी इमेज को लाइट या डार्क किया जा सकता है तथा इसमें भी हम कलर चैनल के हिसाब से किसी स्पेशल कलर पर इफ़ेक्ट दे सकते है, यानि जो चैनल कलर से रंग को सेलेक्ट करेंगे उसी रंग पर ही बदलाव देखने को मिलेगा।
      6. Color Balance इसमें Cyan, Magenta, Yellow, Red, Green, Blue इन रंगो को इमेज पर इफ़ेक्ट देने के लिए प्रयोग करते है।  जिसमे इमेज में और रंग डार्क या लाइट करने के लिए प्रयोग करते है। 
      7. Brightness/Contrast इसमें हम अपने इमेज को ब्राइटनेस और कंट्रास्ट की मदद से इमेज में चमक या डार्कनेस देकर इमेज को और हाईलाइट कर सकते है। 
      1. Hue/Saturation इसका प्रयोग उस टाइम करते है जब किसी इमेज का रंग हल्का हो या रंग अच्छा नहीं दिख रहा हो तो saturation की मदद से उसमे रंग घोल सकते है।  hue से रंग बदल सकते है। या कभी किसी इमेज में रंग ज्यादा हो तो इससे कम भी कर सकते है।
      2. Deseturate इसके माध्यम से आप फोटोशॉप में ली गयी कोई भी कलर्ड फोटो के रंग को बदलकर ब्लैक एंड व्हाइट में कर सकते है।  
      3. Replace Color इसके अंतर्गत भी आप रंग को घोल और अघोल कर सकते है। इसमें भी Hue Saturation और Lightness का ऑप्शन मिलेगा। जिससे हम अपने इमेज के किसी रंग को सेलेक्ट करके प्रयोग कर सकते है, जितना इमेज का रंग मैच करेगा उतना hue Saturation प्रयोग करने पर सिर्फ उतना ही बदलेगा जितना कलर मैच कर रहा था। 
      4. Selective Color इसके अंदर भी आपको रंगो के अनुसार घोल करने के लिए मिल जाएगा जिसमे किसी इमेज की रंग अगर हल्का हो तो उसे इसकी मदद से और गाढ़ा कर सकते है। 
      5. Channel Mixer इसमें आपको RGB रंग मिलेंगे जिसमे आप रंग इमेज को डिफरेंट तरह का बना सकते है, इसके अंदर एक Monochrome ऑप्शन है जिसमे आप अपने फोटो को ब्लैक एंड व्हाइट कर सकते है और कितना लाइट चाहिए अपने मुताबिक सेट कर सकते है। 
      6. Gradient Map इसमें आप अपने इमेज पर ग्रेडिएंट के अनुसार अपने ली हुई फोटो पर इफ़ेक्ट दे सकते है और उसे रिवर्स भी कर सकते है। इसका ज्यादा प्रयोग ब्लैक एंड वाइट करने के लिए किया जाता है।
      7. Invert फोटो को इन्वर्ट करने के लिए प्रयोग करते है आप इसे नेगेटिव भी कह सकते है। 
      8. Equalize इसमें आपके इमेज में ब्राइटनेस और कंट्रास्ट को ऑटो सेट कर देता है।  
      9. Threshold  इसमें आपका फोटो ब्लैक & व्हाइट हो जाता है। इसका प्रयोग ज्यादातर वेक्टर में होता है।
      10. Posterize  इसमें आप पोस्टर प्रिंट की भांति अपने इमेज को सेट कर सकते है। 
      11. Variations  इसके अंदर आपको कई कॉलम में फोटोस दिखाई देंगी जिसमे दाई ओर लाइटर डारकर का ऑप्शन मिलेगा जिसमे आप अपने इमेज को एडजस्टमेंट कर सकते है। तथा बिच में आग अलग कलर मोड मिलेगा जिससे इमेज को और एडजस्ट किया जा सकता है। 
    3. Duplicate इसमें आप अपने  को डुप्लीकेट करके पुराने फोटो को बचा सकते है। नए यूजर कोई भी इमेज को लेकर एडिटिंग शुरू कर देते है उसके बाद इमेज जब बिगड़ जाता है तो उसे या क्लोज कर देते है या सेव कर देते है इससे क्या होता है की बढ़िया फोटो भी सेव होने के बाद भी नहीं मिलेगा अगर आप कॉपी किये रहेंगे तो आपका नया और पुराना दोनों इमेज सुरक्षित रहेगा।
    4. Apply Image इस आप्शन से हम अपने इमेज पर लेयर, चैनल, और ब्लेंडिंग आप्शन का प्रयोग करके इमेज का लेयर मोड बदल सकते है।
    5. Calculation उपरोक्त दी हुई जानकारी कैलकुलेशन में भी है लेकिन इसमें दो या दो से अधिक इमेज का ब्लेंडिंग एक ही इमेज में कर सकते है।
    6.Image Size इसके अंतर्गत आपको अपने इमेज की पिक्सेल साइज और डॉक्यूमेंट साइज़ बढ़ाने घटाने का ऑप्शन मिलेगा जिसमे आप अपने मुताबिक इमेज साइज रख सकते है। अगर कोई इमेज कम पिक्सेल का है तो आप उसका रेसोलुशन भी बढ़ा सकते है।
    7.Canvas Size इसमें हम लिए हुए करंट पेज की साइज देख सकते है तथा बढ़ा भी सकते है।
    8. Rotate Canvas इसमें आप अपने इमेज को ट्रांसफॉर्म कर सकते है, यानि घुमा (Rotate) कर सकते है।
    9. Crop मार्की टूल या किसी भी टूल से सेलेक्ट किये गए हिस्से क्रॉप करने के लिए प्रयोग करते है, जब हम इमेज को सेलेक्ट करके इस आप्शन पर क्लिक करेंगे तो बाकि इमेज डिलीट हो जायेगा जितना सिलेक्शन रहेगा सिर्फ वही पार्ट रहेगा।
    10. Trim इसके मदद से इमेज में एक्स्ट्रा बैकग्राउंड को डिलीट करने के लिए प्रयोग करते है, या फिर आप यदि कोई लेयर बैकग्राउंड से बड़ा लिए है तब इस आप्शन पर क्लिक करने से एक्स्ट्रा पार्ट डिलीट हो जाता है।
    11. Reveal All इसका प्रयोग हम उस टाइम करते है जब ढेर साडी इमेज एक ही पिक्सेल पर रखा गया हो और उसमे से कुछ पिक्चर ऊपर, निचे, दाएं, बाएं, चला गया हो तो उसे आप रेवेअल आल ऑप्शन से देख सकते है।
    12. Histogram इसके मदद से इमेज का लेवल, पिक्सेल आदि देखने के लिए किया जाता है, ये हमारे इमेज में लगे कलर के अनुसार हमें औसत इंटेंसिटी को बताता है।

      Layer Menu Complete Notes | Description of Layer Menu




       


      Layer option in Photoshop 7.0
      1. Layer इसका प्रयोग तरह तरह के इफ़ेक्ट देने के लिए कर सकते है। इसमें आपको लेयर पेज ट्रांसपेरेंट मिलेगा जिसमे आप इफ़ेक्ट सेट कर सकते है वो भी लेयर के निचे वाले इमेज को बिना कुछ किये ही आप इस लेयर वाले ऑप्शन में जाकर ब्रश से कोई रंग चलाने के बाद ब्लेंडिंग ऑप्शन में जाकर उसे अपने पसंद के अनुसार रख सकते है।  जैसे किसी का हेयर स्टाइल में कलर करना हो तो आप कर सकते है। 
      2. Duplicate Layer जरिये आप किसी भी लेयर को डुप्लीकेट कॉपी तैयार कर सकते है।
      3. Delete इसके जरिये आप किसी भी लेयर को मिटा सकते है।
      4. Layer Properties इसमें आप अपने लेयर को अलग-अलग रंग में रख सकते है। 
      5. Layer Style इसके अंदर आपको 19 ऑप्शन मिलेंगे। इसका फोटो आप  देख सकते है 
      • Blending Option इसकी मदद से सेलेक्ट किये हुए कोई भी पिक्चर जो की लॉक न हो,  उसे सेलेक्ट  करने के बाद blending option जाकर पिक्चर को ट्रांसपेरेंट, करने तथा पीछे लगे हुए इमेज के अनुसार (Blend) मिश्रण करने के लिए प्रयोग करते है। 
      • Drop Shadow इसकी मदद से सिलेक्ट किए हुए लेयर पर परछाई का इफेक्ट देने के लिए प्रयोग करते हैं, इसके अंदर आप कोई भी कलर सेलेक्ट कर सकते हैं Shadow का, और इसका एंगल भी चेंज किया जा सकता है। 
      • Inner Shadow इसकी मदद से अंदर की तरफ परछाई लगा सकते हैं।  ड्रॉप शैडो में बाहर की तरफ परछाई देता है, और इसमें अंदर की ओर इसका प्रयोग अधिकतर क्रॉप किए गए किसी भी इमेज पर लगाने के लिए प्रयोग करते हैं ताकि कटा हुआ पिक्चर का कार्नर मोड़ सकें। 
      • Outer Glow किसी भी इमेज पर चारों तरफ Outer Glow  (बाहरी चमक) लगाने के लिए प्रयोग करते हैं अधिकतर काटे हुए इमेज पर इसका प्रयोग किया जाता है। और इसमें आप कोई भी कलर या ग्रेडियंट लगा सकते हैं। 
      • Inner Glow किसी भी इमेज पर चारों तरफ Inner Glow (आंतरिक चमक) लगाने के लिए प्रयोग करते हैं अधिकतर काटे हुए इमेज पर इसका प्रयोग किया जाता है। और इसमें आप कोई भी कलर या ग्रेडियंट लगा सकते हैं। 
      • Bevel and Emboss इसकी मदद से इमेज पर बिवेल तथा Emboss (उभरापन)  इफेक्ट लगाने के लिए प्रयोग करते हैं। जिससे इमेज में एक 3D  इफ़ेक्ट आता है। 
      • Satin इसके मदद से सेलेक्ट किए हुए लेयर पर पिक्चर के बिच में इफ़ेक्ट लगाने के लिए प्रयोग करते है। 
      • Color Overlay इसके हेल्प से सेलेक्ट किए हुए पिक्चर लेयर को कलर के अनुसार इफ़ेक्ट लगाने के लिए प्रयोग करते है। 
      • Gradient Overlay इसका प्रयोग भी कलर ओवरलेय की तरह होता है। इसमें बैकग्राउंड फोरग्राउंड रंग के अनुसार या प्रीसेट रंग के अनुसार इफ़ेक्ट लगाने के लिए प्रयोग करते है। 
      • Pattern Overlay इसका प्रयोग भी ऊपर दिए गए कलर और ग्रेडिएंट की तरह ही होता है। 
      • Stroke इसका प्रयोग भी आउटर ग्लो की तरह होता है, इसमें भी आप आउट साइड, इन साइड, और सेण्टर का  प्रयोग कर सकते है। इसमें आप कलर के साथ-साथ ग्रेडिएंट और पैटर्न का भी प्रयोग कर सकते है। 
      • Copy Layer Style जब किसी भी फोटो के लेयर पर अलग अलग इफ़ेक्ट लगा दिए जाते हैं जैसे ड्रॉप शैडो, इनर शैडो,आउटर ग्लो, इनर ग्लो, बेवल एंड एम्बॉस आदि इन सब का इफ़ेक्ट लगाने के बाद किसी दूसरे लेयर पर भी लगाने के लिए यही इफेक्ट कॉपी लेयर स्टाइल के द्वारा कॉपी कर लिया जाता है।
      • Paste Layer Style कॉपी किया हुआ हेयर स्टाइल किसी दूसरे लेयर पर पेस्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
      • Paste Layer Style to Linked जब कई लेयर एक लिंक में (जुड़ा) हो उस अवस्था में पेस्ट करके उसपर इफ़ेक्ट लगाने हेतु प्रयोग करते हैं। 
      • Clear Layer Style लगाए गए लेयर स्टाइल को एक क्लिक में हटाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
      • Global Light जब कोई लेयर पर ड्रॉप शैडो, इनर शैडो और आउटर ग्लो, इनर ग्लो जैसे इफेक्ट लगाए जाते हैं उसका डायरेक्शन एंगल की मदद से बदलने के लिए ग्लोबल लाइट का प्रयोग करते हैं इसके अंतर्गत आप शैडो इनर शैडो आदि का एंगल बदल सकते हैं। 
      • Create Layer जब ड्रॉप शैडो इनाडु इनर शैडो आउटर ग्लो, इनर ग्लो जैसे इफेक्ट लगाने के बाद क्रिएट लेयर पर क्लिक करने पर उस पिक्चर के ऊपर 1 लेयर क्रिएट हो जाता है। 
      • Hide All Effect पिक्चर पर लगाए गए सभी इफेक्ट को Hide (छिपाने) करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
      • Scale Effects लगाए गए इफेक्ट को स्केल के माध्यम से बढ़ाने के लिए प्रयोग करते हैं इसमें इसको ओपन करते ही आपको 1 परसेंटेज का ऑप्शन मिलेगा जिस पर क्लिक करके आप उसमें 1 से लेकर के 1000 परसेंट तक इफ़ेक्ट को बढ़ा सकते हैं।
          6. New Fill Layer नया लेयर लेने के दौरान सॉलिड कलर, ग्रेडिएंट, और पैटर्न लाने के लिए प्रयोग करते है। 
          7. New Adjustment Layer नया लेयर इन्सर्ट करते वक्त ही लेयर एडजस्टमेंट करने के लिए प्रयोग करते है इसके अंदर लेवल, कर्व, सेलेक्टिव कलर इत्यादि जैसे इफ़ेक्ट मौजूद है। जो ऑप्शन इमेज मेनू के एडजस्टमेंट में पहले से मौजूद है।
          8. Change Layer Content न्यू एडजस्टमेंट लेयर कि मदद से लगाए गए इफेक्ट को चेंज लेयर कंटेंट की मदद से बदलाव किया जाता है।
          9. Layer Content Options लेयर कंटेंट ऑप्शन की मदद से इफेक्ट को हटाने तथा बढ़ाने के लिए प्रयोग करते हैं।
          10. Type टेक्स्ट से संबंधित सभी विकल्पों को देखने तथा लगाने के लिए प्रयोग करते हैं टाइप टूल सिलेक्ट करते ही प्रॉपर्टी बार में भी यह ऑप्शन पहले से मौजूद होता है।
          11. Resterize इसके माध्यम से लिखे हुए टेक्स्ट या पैराग्राफ को Resize करने के लिए प्रयोग करते हैं।
          12. New Layer Based Slice लेयर के अनुसार स्लाइस लगाने के लिए प्रयोग करते हैं जो लेयर सिलेक्ट रहता है उसी की साइज का स्लाइस इन्सर्ट हो जाता है।
          13. Add Layer Mask लेयर मास्क लगाने के लिए प्रयोग करते हैं जिसमें Reveal All और Hide All का ऑप्शन मौजूद रहता है। Reveal All लगाने पर मास्क का रंग सफ़ेद हो जाता है वही हाईड आल करने पर  काला हो जाता है तथा लगाने के बाद Add Layer Mask की जगह remove layer Mask विकल्प दिखने लगता है।
          14. Enable Layer Mask /Disable Layer Mask लगाए गए लेयर मास्क को इनेबल तथा डिसेबल करने के लिए प्रयोग करते हैं।
          15. Add Vector Mask यह भी बिलकुल लेयर मास्क की तरह ही कार्य करता है लेकिन हाईड आल का रंग ग्रे होता है।
          16. Enable Vector Mask /Disable Vector Mask लगाए गए वेक्टर मास्क को इनेबल तथा डिसेबल करने के लिए प्रयोग करते हैं।
          17. Group With Previous (Ctrl+G) / Ungroup (Shift+Ctrl+G ) किसी भी लेयर को ग्रुप करने हेतु ग्रुप विद प्रीवियस विकल्प का प्रयोग करते हैं जिस के उपयोग के पश्चात अनग्रुप ऑप्शन दिखाई देने लगता है।
          18. Arrange अरेंज विकल्प की मदद से लेयर को ऊपर नीचे करने के लिए प्रयोग करते हैं यहां ऊपर नीचे का अर्थ है ब्रिंग टो फ्रंट, ब्रिंग फॉरवर्ड, सेंड तो बैकवर्ड, सेंड टू बैक जिसमे फ्रंट का मतलब लेयर को सबसे ऊपर करना। बैक का मतलब है पीछे करना।
          19. Align Linked / Distribute Linked दो या दो से अधिक लिंक लेयर को एलाइन करने के लिए प्रयोग करते हैं जिसमें पिक्चर को लेफ्ट राइट सेण्टर करने के साथ ही  ऊपर निचे से बराबर करने के लिए भी प्रयोग करते है।किसी लेयर को लिंक करने के लिए शिव के साथ पिक्चर को सेलेक्ट करते हैं जिससे पिक्चर सेलेक्ट हो जाता है और लिंक करने के बाद यह ऑप्शन आपको प्रॉपर्टीज बार में भी मिल जाएगा।
          20. Lock all Linked Layers लिंक किए हुए सभी लेयर को लॉक करने के लिए प्रयोग करते हैं।
          21. Merge Layer Ctrl+E इसकी मदद से लिंक किए हुए पिक्चर को मर्ज करने के लिए प्रयोग करते हैं।
          22. Merge Visible Shift+Ctrl+E इसका प्रयोग भी मर्ज करने के लिए ही किया जाता है लेकिन यह सिर्फ दिख रहे लेयर को ही मर्ज करता है यदि लेयर बॉक्स से कोई लेयर हाईड किया गया हो तो वह लेयर मर्ज नहीं होगा।
          23. Flatten Image यह भी बिलकुल मर्ज विज़िबल की तरह ही कार्य करता है परन्तु इस में जो भी लेयर हाईड होता है लेयर बॉक्स में उसे डिलीट कर देता है। जबकि यह मर्ज विज़िबल में डिलीट नहीं होता बल्कि हाईड ही रह जाता है।
          24. Matting 



          Select Menu Complete Notes | Description of Select Menu 





          Select Menu
          • All Ctrl+A इसकी मदद से किसी भी पिक्चर पिक्सेल को सेलेक्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          • Deselect Ctrl+D सिलेक्शन को हटाने के लिए डिसेलेक्ट का प्रयोग करते हैं। 
          • Reselect Shift+Ctrl+D हटाए गए सिलेक्शन को पुनः सिलेक्शन करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          • Inverse Shift+Ctrl+I सिलेक्ट किए हुए पिक्चर के भाग को जस्ट उल्टा सिलेक्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          • Color Range कलर रेंज के अनुसार पिक्सेल को सेलेक्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं इससे एक फायदा यह होता है कि फोटो सिलेक्शन करने में ज्यादा वक्त नहीं लगता और इससे आप अलग-अलग कलर ऐड करके भी सिलेक्शन कर सकते हैं। 
          • Feather Alt+Ctrl+D सेलेक्शन के दौरान कार्नर को फीदर (धुंधलापन) लगाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          • Modify यह ऑप्शन सिलेक्ट किए गए लेयर पर ही दिखाई देता है जिसके अंदर आप बॉर्डर (बॉर्डर लगाने के लिए) स्मूथ (स्मूथ करने के लिए ) एक्सपेंड (सेलेक्ट किये हुए सिलेक्शन को बढ़ाने के लिए) कांट्रैक्ट (सेलेक्ट किये हुए सिलेक्शन को घटाने के लिए) का प्रयोग करते हैं। 
          • Grow / Similar इन दोनों की मदद सेलेक्ट किये हुए लेयर को रंग के अनुसार सिलेक्शन को बढ़ाने के लिए प्रयोग करते है। 
          • Transform Selection लेयर के भाग को सेलेक्ट करने के बाद घुमाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          • Load Selection / Save Selection इसकी मदद से लेयर को सेलेक्ट करने के लिए प्रयोग करते हैं तथा प्रयोग करने के बाद सेव सिलेक्शन का प्रयोग किया जा सकता है। 


          Filter Menu Complete Notes | Description of Filter Menu





          Filter Menu
          1. Last Filter Ctrl+F लास्ट फिल्टर की मदद से अंतिम बार इस्तेमाल किए गए फिल्टर को देखने तथा दोगुना करने के लिए प्रयोग करते हैं जिसका शॉर्टकट की Ctrl+F है। 
          2. Extract Alt+Ctrl+X इसकी मदद से फोटो के चारों तरफ सिलेक्शन करने के बाद सिलेक्शन के बाहरी हिस्से को मिटाकर ट्रांसपेरेंट बनाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          3. Liquify Shift+Ctrl+X इसका प्रयोग पिक्चर को फैलाने तथा Pixel को रोटेशन देने के लिए प्रयोग करते हैं इसका अधिक प्रयोग आंखों को छोटा था बड़ा करने और किसी हिस्से को टेढ़ा का सीधा करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
          4. Pattern Maker Alt+Shift+Ctrl+X पेटर्न मेकर जैसा किसका नाम है उस हिसाब से ही आप समझ गए होंगे इसका कार्य क्या होगा इसका प्रयोग पैटर्न बनाने के लिए करते हैं। 
          इसके बाद के सभी ऑप्शन आपको खुद से प्रयोग करने पड़ेंगे ताकि आप सभी ऑप्शन को अच्छे तरीके से समझ सके जिसमें आपको आर्टिस्टिक, ब्लर, ब्रश स्ट्रोक, डिस्टोर्ट, नॉइज़, पिक्सलेट, रेंडर, शार्पन, स्केच, स्टाइलाइज, पिक्चर, वीडियो, अदर, दिगीमार्क ऑप्शन मिल जाएंगे।



            View Menu Complete Notes | Description of View Menu




            View Menu

            • व्यू का अर्थ देखना होता है जिसमें आपको व्यू मेनू में सिर्फ देखने से संबंधित सेटिंग करने के लिए विकल्प मिलेगा। जो आप सभी विकल्प देख रहे हैं स्क्रीन पर उसको छिपाने तथा लाने के लिए प्रयोग किया जाता है। 


            • CMYK=  Cyan,   Magenta,   Yellow,    Key (Black) 
            1. Proof Setup पिक्चर के अनुसार प्रूफ सेटिंग करने के लिए प्रयोग करते हैं जिसमें आपको Working CMYK Plate, Working Cyan Plate, Working Magenta Plate, Working Yellow Plate, Working Black Plate, और Working CMYK Plate, आदि जैसे ऑप्शंस का प्रयोग करके पिक्चर का कलर चेंज कर सकते हैं। 
            2. Proof Colors (Ctrl+Y) इस्तेमाल किए गए प्रूफ सेटअप को प्रूफ कलर्स की मदद से हटाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            3. Gamut Colors इसकी मदद से गम्मा कलर देखने तथा हटाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            4. Zoom In (Ctrl++) पिक्चर को बड़ा करके देखने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            5. Zoom Out (Ctrl+-) पिक्चर को छोटा करके देखने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            6. Fit On Screen (Ctrl+0) फिट ऑन स्क्रीन कि मदद से पिक्चर को स्क्रीन के अनुसार फिट करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            7. Actual Pixel (Alt+Ctrl+0)एक्चुअल पिक्सेल देखने के लिए प्रयोग करते हैं।
            8. Print Size प्रिंट साइज देखने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            9. Show इसकी मदद से दिए हुए सो ऑप्शन के अंदर सभी विकल्प को लाने तथा छिपाने के लिए प्रयोग करते हैं जिसमें सिलेक्शन edges टारगेट पाथ, ग्रीड, गाइड्स, स्लाइस, आदि मौजूद है। 
            10. Ruler (Ctrl+R)रूलर को छिपाने तथा लाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            11. स्नैप स्नैप 2 इन दोनों की मदद से गाइड, ग्रिड, तथा स्लाइस आदि दिखाने तथा छिपाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            12. Lock Guides (Shift+Ctrl+;)की मदद से लिए हुए गाइड को लॉक करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            13. Clear Guides इसकी मदद से लिए हुए गाइड को हटाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            14. New Guides इसकी मदद से नया गाइड लगाने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            15. Lock Slice लगाए गए स्लाइस को लॉक करने के लिए प्रयोग करते हैं। 
            16. Clear Slice लगाए गए स्लाइस को मिटाने के लिए प्रयोग करते हैं। 

            Window Menu Complete Notes | Description of Window Menu



            Description of Window Menu
            1. Documents इसकी मदद से विंडो को अरेंज करने के लिए प्रयोग करते है। यहाँ अर्रेंज का मतलब खुले हुए पिक्चर्स को एक साथ देखने तथा उसपे कार्य करना है। साथ ही ओपन किये हुए सभी पिक्चर तथा PSD File को एक साथ क्लोज करने के लिए प्रयोग करते है। 
            2. Workspace वर्क स्पेस का कार्य आपके द्वारा स्क्रीन पर टूल्स को जगह जगह पर रखना और एडजस्ट करना इन सभी को सेव करके रखने के लिए प्रयोग करते हैं ताकि किसी दूसरे फोटो में जो डायलॉग बॉक्स या टूल चाहिए हो उसे सिर्फ एक क्लिक में ले सकें। 

            Note बाकी दिए हुए सभी विकल्पों को छिपाने तथा लाने के लिए प्रयोग करते हैं। 



            धन्यवाद दोस्तों आपको यह नोट्स कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं तथा इसे अपने दोस्तों के साथ और सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें। यदि आपको कुछ पूछना हो तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। 


            1. Hi there very nice site!! Man .. Beautiful .. Wonderful ..
              I'll bookmark your site and take the feeds also? I am glad to
              find so many helpful information right here in the submit, we need develop
              more techniques in this regard, thanks for sharing.
              . . . . .

              जवाब देंहटाएं
            2. Have you ever considered about adding a little bit more than just your articles?
              I mean, what you say is important and everything.
              However imagine if you added some great graphics or video clips to give your posts more, "pop"!
              Your content is excellent but with pics and video clips, this blog could certainly be
              one of the most beneficial in its niche. Great blog!

              जवाब देंहटाएं
            3. Pretty great post. I just stumbled upon your blog and wished to mention that I have
              truly loved browsing your weblog posts. After all I will be subscribing to
              your feed and I'm hoping you write once more soon!

              जवाब देंहटाएं
            4. fantastic put up, very informative. I ponder why the other experts of this
              sector do not understand this. You should continue your writing.
              I'm confident, you've a great readers' base already!

              जवाब देंहटाएं
            5. My family every time say that I am killing my
              time here at web, but I know I am getting know-how everyday by
              reading such fastidious posts.

              जवाब देंहटाएं
            6. Write more, thats all I have to say. Literally, it seems as though you relied on the video to make your point.
              You obviously know what youre talking about, why throw away your intelligence on just posting videos to your
              blog when you could be giving us something enlightening
              to read?

              जवाब देंहटाएं
            7. I know this if off topic but I'm looking into starting my own weblog and was curious what all is
              needed to get set up? I'm assuming having a blog like yours would cost a
              pretty penny? I'm not very web smart so I'm not 100% sure.

              Any suggestions or advice would be greatly appreciated.
              Thank you

              जवाब देंहटाएं
            8. Having read this I believed it was extremely informative.
              I appreciate you spending some time and energy to put this short article together.
              I once again find myself spending a significant amount of time both
              reading and posting comments. But so what, it was still worthwhile!

              जवाब देंहटाएं
            9. I really like what you guys are usually up too.
              This type of clever work and reporting! Keep up the terrific works guys I've added you guys to our blogroll.

              जवाब देंहटाएं
            10. Greetings! Very useful advice within this article! It is the little changes that make the greatest changes.
              Thanks a lot for sharing!

              जवाब देंहटाएं
            11. Good write-up. I definitely appreciate this site.

              Stick with it!

              जवाब देंहटाएं
            12. I am actually thankful to the owner of this web
              page who has shared this fantastic post at at this place.

              जवाब देंहटाएं
            13. Sir, thank you very much for telling me all about photo editor, image interview, select image windows help
              Sir, I need to send a photo, information about all tolls and about pageorial pagemaker & Coreldaw

              जवाब देंहटाएं
            14. Hii Sir,
              How to Download Menu File

              जवाब देंहटाएं