https://www.rakeshmgs.in/search/label/Template
https://www.rakeshmgs.in

Hindi Notes

RakeshMgs

How to Use Libreoffice Writer Edit menu (Tab) in Hindi Full Notes for CCC 2019

सोमवार, सितंबर 30, 2019

हेलो दोस्तों कैसे हो आप सब? दोस्तों आज आप यहां पर लिब्रे ऑफिस के राइटर के एडिट मेनू के बारे में पढ़ेंगे इसके पहले हमने फाइल मेनू के बारे में पोस्ट किया था और यदि आपने अभी तक नहीं पढ़ा है तो यहां क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

LibreOffice Writer Edit Menu Hindi Notes

फ्री नोट्स वाला पीडीऍफ़ कम्पलीट नहीं है यदि आप कम्पलीट नोट्स डाउनलोड करना चाहते है तो निचे बटन पर क्लिक करें

बिना वाटरमार्क सिर्फ 50 रु० में ख़रीदे ऑफर सिमित समय के लिए है



  1. Undo Ctrl+Z इसका प्रयोग एक स्टेप पीछे करने के लिए करते है। 
  2. Redo Ctrl+Y इसका प्रयोग एक स्टेप आगे करने के लिए करते है यह तभी आगे होता है जब undo ज्यादा हो जाता है। 
  3. Repeat Ctrl+Shift+Y इसके प्रयोग से किसी कार्य को रिपीट कर सकते है।
  4. Cut Ctrl+X किसी भी सेलेक्ट किये हुए ग्राफ़िक्स या टेक्स्ट को कट (स्थान्तरण) करने के लिए प्रयोग करते है। 
  5. Copy Ctrl+C इसके प्रयोग से सेलेक्ट किये हुए टेक्स्ट या किसी ग्राफ़िक को copy करने के प्रयोग करते है। 
  6. Paste Ctrl+V कट या कॉपी किया गया ऑब्जेक्ट या टेक्स्ट को paste (चिपकाने) के लिए प्रयोग करते है। 
  7. Paste Special इसके अंदर दो विकल्प दिए गएँ है जो निम्न है-
    • Paste Unformated Text Ctrl+Alt+Shift+V पेस्ट अनफॉर्मेटेड टेक्स्ट इसका कार्य सिर्फ इतना है कि किसी फॉर्मटेड टेक्स्ट को कॉपी करने के बाद उसमे की सभी फॉर्मेटिंग के बिना सिंपल टेक्स्ट को पेस्ट करने के लिए प्रयोग करते है। 
    • Paste Special Ctrl+Shift+V किसी दूसरे सॉफ्टवेयर से कॉपी किए गए ऑब्जेक्ट्स या टेक्स्ट को पेस्ट स्पेशल की मदद से पेस्ट करने पर अच्छी तरह (Properly) से पेस्ट होता है।
  8. Select All Ctrl+A  पेज पर रखे गए सभी टेक्स्ट, इमेज, और ग्राफ़िक को एक बार में ही सेलेक्ट करने के लिए प्रयोग करते है। 
  9. Selection Mode इसमें दो प्रकार के सिलेक्शन मोड दिए गए है जो निम्न है-
    • Stranded Mode 
    • Block Area 
    1. जिसमे की एक से टेक्स्ट को पैराग्राफ वाइज सेलेक्ट करने के लिए है तथा दूसरा पैराग्राफ को सेलेक्ट करते समय जहाँ से सिलेक्शन स्टार्ट किया गया है उसके सीध में ऊपर या निचे का सेलेक्ट ही सिर्फ होगा। Note दूसरा सिलेक्शन कुछ खास नहीं हमारे लिखे हुए कंटेंट को प्रॉपर्ली सेलेक्ट नहीं कर पाता है। 
  10. Select Text Ctrl+Shift+I इसकी मदद से आप सिर्फ टेक्स्ट को ही सेलेक्ट कर पाएंगे बिना किसी ग्राफ़िक, इमेज, शेप को सेलेक्ट किये बिना। यही विकल्प एम एस ऑफिस के होम मेनू में सेलेक्ट ऑप्शन के सेलेक्ट ऑब्जेक्ट में मिलता है लेकिन इसमें सिर्फ ऑब्जेक्ट सेलेक्ट होतें है न की टेक्स्ट। 
  11. Find Ctrl+F फाइंड का मतलब तो आप जानते ही होंगे इसका मतलब खोजना या ढूढ़ना होता है जिसमे आप किसी टेक्स्ट, पैराग्राफ, वर्ड को खोज सकते है। 
  12. Find & Replace Ctrl+H खोजना और बदलना किसी टेक्स्ट, पैराग्राफ, वर्ड को खोजने के बाद बदलने के लिए प्रयोग करते है। जैसे मान लीजिये लिखा है "MGSTECHZ" हम पहले फाइंड बॉक्स में जाकर खोजेंगे कि यह वर्ड कहा लिखा है उसके बाद रेप्लस बॉक्स कोई और वर्ड लिख देंगे जैसे "RAKESHMGS" तो MgsTechz की जगह RakeshMgs हो जायेगा। यदि एक से अधिक जगह पर बदलना है तो Replace All पर क्लिक कर दें। 
  13. Go To Page Ctrl+G इस विकल्प से आप किसी भी पेज का नंबर लिखकर के जा सकते हैं आपको जिस पेज पर जाना हो उस पेज का नंबर डालिए और ओके पर क्लिक कर दीजिए आप उस पेज पर पहुंच जाएंगे। 
  14. Track Changes इस ऑप्शन में खास बात यह है कि यदि आप अपने डॉक्यूमेंट को सेव करके छोड़ दिए हैं और कोई दूसरा व्यक्ति उस डॉक्यूमेंट में कुछ बदलाव कर देता है तो इस ऑप्शन की मदद से आप देख सकते हैं और वह क्या-क्या चेंज किया है इसको रिकॉर्ड भी कर सकते हैं। इसलिए इसका नाम ट्रैक चेंज्स रखा गया है यह किसी कार्य को ट्रैकिंग करता है यानि नजर रखता है। 
    1. Record जब आप रिकॉर्ड को ऑन कर देते हैं तब पेज पर कोई भी टेस्ट लिखने पर कुछ अलग फॉर्मेटिंग में दिखने लगेगा और सभी गतिविधि को रिकॉर्ड कर लेगा। 
    2. Show यदि इस विकल्प के ऊपर से टिक हटा देंगे तो कोई भी चेंज इस करने पर आपका टेक्स्ट नॉर्मल दिखेगा यदि यह पिक लगा रहेगा तो वह अलग फॉर्मेट में दिखने लगेगा। 
    3. Manage Changes मैनेज चेंजर्स के अंदर जाकर डॉक्यूमेंट में बदलाव किए हुए सभी फॉर्मेटिंग टेक्स्ट या कोई नया चीज ऐड किया हुआ हो उसे एक्सेप्ट या रिजेक्ट कर सकते हैं साथी न्यू कमेंट भी लिख सकते हैं न्यू कमेंट लिखने के लिए मैनेज में जाकर ऊपर दिए हुए चेंज लिस्ट पर राइट क्लिक करके एडिट कमेंट पर क्लिक करके लिख सकते हैं। 
    4. Next/Previous इस ऑप्शन से नेक्स्ट और प्रवेश करके चेंज किए हुए या लिखे हुए कंटेंट को देखा जा सकता है कि कहाँ से कहाँ तक बदलाव किया गया है। 
    5. Accept/Accept All डॉक्यूमेंट में बदलाव किए हुए सभी कार्यों को एक बार में एक्सेप्ट करने के लिए एक्सेप्ट ऑल पर क्लिक करते हैं यदि एक-एक करके Accept  (स्वीकार ) करना हो तो सिर्फ एक्सेप्ट पर क्लिक करेंगे। 
    6. Reject/Reject All डॉक्यूमेंट में बदलाव किए हुए सभी कार्यों को एक बार में अस्वीकार करने के लिए (Reject All) पर क्लिक करते हैं यदि एक-एक करके Reject (अस्वीकार) करना हो तो सिर्फ Reject पर क्लिक करेंगे। 
    7. Protect अपने डॉक्यूमेंट को पासवर्ड से लॉक कर सुरक्षित करने के लिए प्रोटेक्ट का प्रयोग किया जाता है। 
    8. Compare Document दो डॉक्यूमेंट फाइल को आपस में compare यानि तुलना करने के लिए प्रयोग करते है। 
    9. Merge Document दो या दो से अधिक डाक्यूमेंट्स को मर्ज करके एक बनाने के लिए प्रयोग करते है। 
  15. Comment किसी वर्ड या पैराग्राफ पर सिलेक्शन के बाद टिप्पड़ी (Comment ) जोड़ने के लिए प्रयोग करते है। 

इसके आगे के कंटेंट लिखें जा रहे है...


  1. और जो मेनू है उसके भी नोट्स उपलब्ध करा दीजिये सर बड़ी कृपा रहेगी आपकी

    जवाब देंहटाएं